जैविक एजेंट व जैविक कीटनाशकों द्वारा फसल सुरक्षा

1

उत्तर प्रदेश में जैविक एजेंट व जैविक कीटनाशकों द्वारा फसल सुरक्षा कैसे करें ? पूरी जानकारी हिंदी में पढ़ें –

(Crop pest control by bio agent and bio pesticides)

जैविक एजेंट व जैविक कीटनाशकों द्वारा फसल सुरक्षा कैसे करें ? – प्रदेश में जैविक एजेन्ट-ट्राइकोकार्डट्राइकोडरमा तथा एन.पी.वी. का उत्पादन कृषि विभाग की नौ आई.पी.एम. प्रयोगशालाओं हरदोईआजमगढ़वाराणसीउरई (जालौन)बरेलीमथुरामुरादाबादसैनी (कोशाम्बी) एवं कैराना (मुजफ्फजरनगर) कृषि विश्वविद्यालयों की तीन प्रयोगशालाओं कानपुरमोदीपुरम (मेरठ) एवं फैजाबाद तथा भारत सरकार की दो प्रयोगशालाओं लखनऊ एवं गोरखपुर में किया जा रहा है। क्राइसोपर्ला का उत्पादन कृषि विश्वविद्यालयमेरठ की प्रयोगशाला में हो रहा है। इसी प्रकारजैविक एजेंट व जैविक कीटनाशकों द्वारा फसल सुरक्षा हेतु पेस्टीसाइड का उत्पादन/विक्रय प्रदेश में अनेक फर्मो द्वारा भी किया जा रहा है। इनकी उपलब्धता में कठिनाई नहीं है।
इस प्रकारजैविक एजेंट व जैविक कीटनाशकों द्वारा फसल सुरक्षा से शुद्ध एवं मितव्ययी तथा अधिक उत्पादन प्राप्त किया जा सकता है तथा स्वस्थ पर्यावरण में कृषि का सतत् विकास सुनिश्चित हो सकता है।
जैविक एजेंट व जैविक कीटनाशकों द्वारा फसल सुरक्षा-
भूमि शोधन
क्र०सं०
कीट का नाम
प्रभावित फसल
रोकथाम
मात्रा/हे०
भूमिगत कीट
1
दीमक
समस्त फसल
ब्यूवेरिया बैसियाना अथवा दानेदार कीटनाशी अथवा क्लोरोपायरीफास 20 % ई०सी०
2.5 किग्रा०  10-20 किग्रा० 2.5 लीटर
2
सफेद गिडार
समस्त फसल
ब्यूवेरिया बैसयाना अथवा मेटाराइजियम अथवा क्लोरोपायरीफास 20% ई०सी० अथवा दानेदार कीटनाशी
 2.5 किग्रा० 2.5 किग्रा०/ 500 मिली०     2.5 लीटर 10-20 किग्रा०
3
सूत्रकृमि
समस्त फसल
तदैव
तदैव
4
जड़ की सूड़ी
धान
तदैव
तदैव
5
कटवर्म
सब्‍जियॉ
तदैव
तदैव
6
कद्दू का लालकीट
कद्दू वर्गीय सब्‍जियॉ
क्लोरोपायरीफास 20% ई०सी० अथवा ब्यूवेरिया बैसियाना अथवा मेटाराइजियम
2.5 लीटर 2.5 लीटर 2.5 किग्रा०/500 मिली०
7
अर्ली सूट बोरर
गन्ना
दानेदार कीटनाशी अथवा क्लोरापायरीफास 20 % ई०सी० अथवा मेटाराइजियम
10-20 किग्रा० 2.5 किग्रा०  2.5 किग्रा०/500 मिली०
8
लेपीडोप्टेरस कीट
खरीफ की
दानेदार कीटनाशी समस्त फसल ब्यूवेरिया बैसियाना अथवा मेटाराइजियम
10-20 किग्रा० 2.5 किग्रा० अथवा 2.5 किग्रा०/500 मिली०
9
मिलीबग
भिण्डी‚ कपास ब्यूवेरिया बैसियाना आम‚ कटहल अथवा मेटाराइजियम अथवा क्लोरोपायरीफास 1.5 %डी०पी०
 2.5 किग्रा० अथवा 2.5 किग्रा०/500 मिली० 20-25 किग्रा०/150-200 ग्राम/पेड़
भूमिजनित रोग
1
खैरा
धान
जिंक सल्फेट
20-25 किग्रा०
2
जीवाणु झुलसा/पत्तीधारी रोग
धान
स्यूडामोनास
2.5 किग्रा०/250 मिली०
3
फाल्स स्मट/शीथ ब्लाइट
धान
ट्राईकोडरमा अथवा स्यूडोमोनास
2.5 किग्रा० 2.5 किग्रा०/250 मिली०
4
उकठा
दलहनी फसलें‚ तिल गन्ना‚ सब्‍जियॉ औद्यानिक व वन वृक्ष
तदैव
तदैव
5
रूटरॉट स्टम्पकॉलर रॉट
दलहनी फसलें‚ मूँगफली एवं सब्‍जियॉ
तदैव
तदैव
6
बैक्टीरियल विल्ट
दलहनी‚ तिलहनी
स्यूडामोनास औद्यानिक फसलें एवं सब्‍जियों
2.5 किग्रा०/250 मिली०
7
डैम्‍पिंग ऑफ डाउनी मिल्ड्यू
सब्‍जियॉ
ट्राईकोडरमा अथवा स्यूडोमोडरमा
2.5 किग्रा० 2.5 किग्रा०/250 मिली०
8
डाउनी मिल्ड्यू
ज्वार‚                   बाजरा        मक्का
ट्राइकोडरमा अथवा स्यूडोमोनास
2.5 किग्रा०/250 मिली०

पादप सुरक्षा प्रबंधन के अन्तर्गत ख़रीफ़ की फ़सल में कीटों व रोगों की रोकथाम के उपाय

1 COMMENT

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.