जैव जीवनाशी से करें फसल पर लगे कीटों की रोकथाम

0

जैव जीवनाशी से करें फसल पर लगें कीटों की रोकथाम – ब्यूवेरिया बैसियाना एक फफूंदी जनित उत्पाद (pest control by bio pesticide  Biovirus Basiana)

जैव जीवनाशी से करें फसल पर लगे कीटों की रोकथाम-

यह एक फफूंदी जनित उत्पाद है । जो विभिन्न प्रकार के फुदकों को नियंत्रित करता है। यह लेपीडोप्टेरा कुल के कैटरपिलर,जिसमें फली छेदक (हेलियोथिस),स्पोडाप्टेराछेदक तथा बाल वाले कैटरपिलर सम्मिलित हैं । पर प्रभावी है तथा छिड़काव होने पर उनमें बीमारी पैदा कर देता है जिससे कीड़े पंगु हो जाते है । और निष्क्रिय होकर मर जाते हैं। यह विभिन्न प्रकार के फसलों फलों एवं सब्जियों में लगने वाले फली बेधक पत्ती लपेटक,पत्ती खाने वाले कीटभूमि में दीमक एवं सफेद गीडार आदि की रोकथाम के लिए लाभकारी है।

प्रयोग विधि-

  • भूमि शोधन हेतु ब्यूवेरिया बैसियान की 2.5 किग्रा० प्रति हे० लगभग 25 किग्रा० गोबर की खाद् में मिलाकर अन्तिम जोताई के समय प्रयोग करना चाहिये।
  • खाई फसल में कीट नियंत्रण हेतु 2.5 किग्रा० प्रति हे० की दर से 400-500 लीटर पानी में घोलकर सायंकाल छिड़काव करें। जिस आवश्यकतानुसार 15 दिन के अन्तराल पर दोहराया जा सकता है। इसकी सेल्फ लाईफ वर्ष है।

फसल में एकीकृत नाशीजीव प्रबन्धन कैसे करें

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.