Poplar Tree Farming | पोपलर की खेती से लाभ ही लाभ

0
353

Poplar Tree Farming Tips, Profit: भारत हमारे देश भारत एक कृषि प्रधान देश है और खेती की बदौलत ही बड़ी आबादी की रोजी-रोटी चलती है। यूं तो लोग अपना और अपने परिवार का पेट भरने के लिए सालों से खेती का सहारा लेते आ रहे हैं, लेकिन अब भी खेती-किसानी को ज्यादा प्रॉफिट वाला नहीं माना जाता है।

Poplar Tree Farming Grow More Profits

Poplar Tree Farming | पोपलर की खेती से लाभ ही लाभ 1

अतीत में बड़ी संख्या में किसान कभी कर्ज तो कभी फसल की बर्बादी की वजह से आत्महत्या करते आए हैं। हालांकि, खेती करके कई किसान लाखों-करोड़ों रुपये भी कमाते हैं। कई तरह की फसलें होती हैं, जिनकी मदद से किसान आमदनी को बढ़ा सकता है. उसी तरह, कई तरह के पेड़ों की डिमांड भी मार्केट में बहुत है और उसकी लकड़ियों की अच्छी-खासी रकम मिलती है. इसी तरह यदि आप पोपलर के पेड़ों की खेती करते हैं तो फिर आपको अच्छा लाभ मिल सकता है। पॉपुलर की खेती कैसे करें (Popular Farming in Hindi), तथा पॉपुलर की लकड़ी का क्या बनता है? और Poplar Tree Rate कितना होता है, आदि के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी जा रही है |

Poplar Tree Farming Income, Profit | पोपलर की खेती से लाभ ही लाभ

दुनिया में कहां उगाए जाते हैं पॉपुलर के पेड़?

पॉपुलर के पेड़ों की खेती सिर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि दुनियाभर के कई हिस्सों में होती है. एशिया, नॉर्थ अमेरिका, यूरोप, अफ्रीका के देशों में पॉपुलर के पेड़ उगाए जाते हैं।

भारत में कहाँ होती है पोपलर की खेती | Where to Poplar Tree Farming in इंडिया

भारत में हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, अरूणाचल प्रदेश और पश्चिम बंगाल मुख्य पोपलर उत्पादक राज्य हैं।

पोपलर के पेड़ का उपयोग | Uses of Poplar Tree

पॉपुलर के पेड़ का विभिन्न कामों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस पेड़ का इस्तेमाल पेपर को बनाने में, हल्की प्लाईवुड, चॉप स्टिक्स, बॉक्सेस, माचिस आदि बनाने के लिए किया जाता है।

किस तापमान में उगता है पोपलर का पेड़? (Poplar Tree Farming Temperature)

पॉपुलर के पेड़ की खेती के लिए तापमान की बात करें तो भारत उसके लिए सबसे सही वातावरण वाले देशों में एक है। दरअसल, पॉपुलर की खेती के लिए पांच
डिग्री सेल्सियस से लेकर 45 डिग्री सेल्सियस के तापमान की जरूरत होती है। इसे सूरज की सीधी रौशनी की आवश्यकता होती है। पॉपुलर के पौधे सामान्य तापमान वाले होते है, तथा पौध रोपाई के लिए 18 से 20 डिग्री तापमान की आवश्यकता होती है | इसकी खेती में 750 से 800 MM वर्षा उपयुक्त होती है | इसके पौधे अधिकतम 45 डिग्री तथा न्यूनतम 10 डिग्री तापमान पर अच्छे से विकास कर सकते है |

पॉपुलर के लिए उपयुक्त मिट्टी का चयन कैसे करें

वहीं, नीचे की मिट्टी से यह पेड़ आसानी से मॉइश्चर भी हासिल कर लेता है। हालांकि, जिन जगह खूब बर्फबारी होती है, वहां पर पॉपुलर के पेड़ नहीं उगाए जा सकते हैं। इसकी खेती के लिए आपके खेत की मिट्टी 6 से 8.5 पीएच के बीच में होनी चाहिए।

पोपलर की खेती में भूमि की तैयारी (Popular Farming Land Preparation)

पॉपुलर के पौधों को खेत में लगाने से पूर्व भूमि को ठीक तरह से तैयार कर ले | इसके लिए खेत की मिट्टी पलटने वाले हलो से गहरी जुताई कर दे | इसके बाद खेत में पानी लगा दे | पानी लगे खेत में जब पानी सूख जाये तो रोटावेटर लगाकर दो से तीन तिरछी जुताई करे | इससे खेत की मिट्टी भुरभुरी हो जाएगी | जिसके बाद खेत में पाटा लगाकर खेत को समतल कर दे | यदि खेत की मिट्टी में जिंक की कमी पायी जाती है, तो भूमि तैयारी के समय प्रति एकड़ के हिसाब से 10 KG जिंक सल्फेट की मात्रा का छिड़काव करे | इसके बाद पौधों की रोपाई के लिए खेत में गड्डो को तैयार कर लिया जाता है।

Advanced Improved Varieties For Poplar Tree Farming | पॉपलर के पेड़ की खेती के लिए उन्नत किस्में

Poplar Tree Farming | पोपलर की खेती से लाभ ही लाभ 2

पॉपुलर के बीजो की रोपाई का तरीका (Popular Seeds Planting Method)

पॉपुलर की फसल उगाने से पहले बीज से पौधों को तैयार कर लिया जाता है | इसके बाद तैयार पौधों को खेत में बनाये गए गड्डो में लगाना होता है | किसान भाई
चाहे तो पौधों को किसी रजिस्टर्ड नर्सरी से भी खरीद सकते है, इससे उन्हें पैदावार प्राप्त करने में अधिक समय तक इंतजार नहीं करना पड़ेगा | खेत में 5
मीटर की दूरी रखते हुए पंक्तियों को तैयार कर लिया जाता है | इन पंक्तियों में पौधों की रोपाई 5 से 6 मीटर की दूरी पर तैयार 1 मीटर गहरे गड्डो में की जाती है | एक एकड़ के खेत में तक़रीबन 476 पौधों को लगाया जा सकता है | इन गड्डो में 2 KG गोबर की खाद, 25 GM म्यूरेट ऑफ़ पोटाश के साथ 50 GM सुपर
फास्फेट को अच्छी तरह से मिट्टी में मिलाकर गड्डो में भर दिया जाता है |

पॉपुलर के पौध की रोपाई का उचित समय| Sutable Time to Poplar Plantation

पॉपुलर के पौधों की रोपाई के लिए जनवरी से फ़रवरी का महीना सबसे अच्छा माना जाता है, तथा 15 फ़रवरी से 10 मार्च तक भी पौधों को लगा सकते है |

Inter cropping with Poplar| पॉपुलर के पेड़ों संग हो सकती है अन्य की खेती भी

Poplar Tree Farming | पोपलर की खेती से लाभ ही लाभ 3

अगर आप अपने खेत में पॉपुलर के पेड़ों को लगाना चाहते हैं तो सिर्फ उसी पेड़ को लगाना ही आवश्यक नहीं है. बल्कि आप अन्य जरूरत वाली चीजों की खेती
भी कर सकते हैं. पेड़ों के बीच आप गेंहू, गन्ने, हल्दी, आलू, धनिया, टमाटर आदि को भी उगा सकते हैं और उससे भी अच्छी कमाई कर सकते हैं. एक पेड़ से
दूसरे पेड़ के बीच में दूरी तकरीबन 12 से 15 फीट के बीच की रख सकते हैं । इसके बीच में आप अन्य गन्ना या फिर कोई और चीज की बुआई कर सकते हैं.

पॉपुलर की खेती से कमाई अनलिमिटेड | Popular Farming Earning More Profit, Benefits

कोई भी खेती करने से पहले उससे होने वाली कमाई पर सबसे पहले ध्यान जाता है। यदि आप पॉपुलर की खेती कर रहे हैं तो आपको इससे बंपर कमाई हो सकती है.
पॉपुलर के पेड़ों की लकड़कियां 700-800 रुपये प्रति क्विंटल की दर से बिकती हैं। एक पेड़ का लट्ठ आसानी से 2000 रुपये तक बिकता है। अगर पॉपुलर के
पेड़ों की सही तरीके से देखभाल की जाए तो एक हेक्टेयर में 250 पेड़ तक उगाए जा सकते हैं। जमीन से एक पेड़ की ऊंचाई तकरीबन 80 फीट तक होती है. आप एक हेक्टेयर की पॉपुलर की खेती से छह से सात लाख रुपये तक की कमाई कर सकते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.